YUVA एक विचार, एक स्वप्न, एक आंदोलन या एक समृद्ध राष्ट्र का सपना ||

राष्ट्रधर्म सर्वोपरि ||

देश प्रेम बढ़ाएंगे, भ्रष्टाचार मिटायेंगे ||

हमारा नारा भ्रष्टाचार भारत छोड़ो ||

न्यूज़

मुरादाबाद के समाज रक्षक जूझेंगे प्रदूषण से

मुरादाबाद के समाज रक्षक जूझेंगे प्रदूषण से

मुरादाबाद की आबोहवा को जीने लायक करने के लिए मंगलवार को शहर के तमाम समाज रक्षकों के प्रतिनिधि आर्य समाज सभागार बुध बाजार में जुटे और गहन मंत्रणा की गई। सभी अखबारों के छायाकार वहां पहुंचे भी मगर खबर सभी अखबारों से गायब रही। वजह जो भी हो मगर यह साफ है अखबार अपने इवेंट ही प्रमुखता से प्रकाशित कर रहे हैं। किसे प्रकाशित करना है किसे नहीं अपने सामाजिक नहीं कारोबारी लाभ को ध्यान में रखकर ही करते हैं।

दीपोत्सव के बाद से ही लगभग सभी अखबारों ने शहर का प्रदूषण स्तर घातक पर होने की खबर कई बार प्रकाशित की। इसी संबंध में शहर की समाजिक सस्थाओं की संयुक्त मीटिंग आयोजित की गई थी। खैर अखबार जो चाहे करें। 

उन का जो फ़र्ज़ है वो अहल-ए-सियासत जानें. मेरा पैग़ाम मोहब्बत है जहाँ तक पहुँचे.

इंस मीटिंग को मंथन का नाम दिया गया। इसमें जिन बातों पर चिंता जताई गई उनमें शहर में बढ़ते ,जल वायु और ध्वनि प्रदूषण पर चिंता जताने के साथ ही तय किया गया कि प्रशासनिक तंत्र की जरूरी मदद लेकर शहर की आबोहवा साफ करने की हर संभव कोशिश की जाएगी। मीटिंग का आयोजन आर्य समाज के वरिष्ठ प्रतिनिधि रमेश सिंह आर्य ने किया था। इसमें आर्य समाज के प्रदेश उप प्रमुख ज्ञानेंद्र गांधी, मुरादाबाद नागरिक समाज के सरदार गुरविंदर सिंह, शहर के प्रख्यात समाज सेवी, शिक्षक और समारोह संचालक डॉ. प्रदीप शर्मा, चंद्रशेखर  आजाद ब्रिगेड के एडवोकेट मुकेश भारद्वाज, राम दल के धवल दीक्षित, योगीज सेना के डॉ. संजीव, पंतजलि योग पीठ की महिला योगाचार्य, युवा के शैलेश भारतीय और हबीब फुरकान समेत दर्जन भर संस्थाओं के लोग मौजूद थे। 

सभा के आखिर में अध्यक्षता कर रहे गुरविंदर सिंह ने नदियों पर लिखी अपनी जोरदार कविता का पाठ उन्होंने किया। सभा में तय किया गया कि ज्ञापन दिया जाएगा और जनसंपर्क भी किया जाएगा।